बीआरसीसी : बच्चों का शैक्षणिक स्तर बढ़ाए जाने के साथ ही उनमें संस्कार के गुणों का विकास आवश्यक

    442
    बीआरसीसी : बच्चों का शैक्षणिक स्तर बढ़ाए जाने के साथ ही उनमें संस्कार के गुणों का विकास आवश्यक

    गैरतगंज | सरकारी स्कूलों में बच्चों को कक्षा के अनुसार शिक्षा ना देकर संस्कार तथा नैतिकता के आधार पर शिक्षा दी जाए सभी बच्चों का नेतृत्व पक्ष ज्यादा अच्छा हो सके, बच्चों को शुरूआत से ही सामान्य ज्ञान तथा बुनियादी के बारे में ज्यादा ध्यान दें |

    गैरतगंज तहसील में शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय में चल रहे सरकारी प्राइमरी स्कूल के शिक्षक तथा अध्यापकों के प्रशिक्षण को बीआरसी के द्वारा संबोधित किया गया |  प्राइमरी स्कूलों के शिक्षकों के प्रशिक्षण का दूसरा चरण तहसील मुख्यालय पर हो रहा है |

    प्रशिक्षण में बीआरसी के द्वारा प्राइमरी स्कूलों के शिक्षकों को सभी विषयों का प्रशिक्षण दिया जा रहा है तथा हिंदी एवं गणित जैसे कठिन विषयों के बारे में ज्यादा बातें शिक्षकों को बताई जा रही हैं | गैरतगंज तहसील के बीआरसी राकेश सोनी तथा प्रशिक्षण प्रभारी बीएसी मनोज नायक के साथ अन्य अधिकारी भी प्रशिक्षण कार्यक्रम में उपस्थित हुए |

    बीआरसी ने सभी शिक्षकों तथा अध्यापकों को बताया है कि स्कूलों में बच्चों का स्तर सुधारने के लिए तथा नैतिकता के गुणों को आगे बढ़ाने के लिए बच्चों को किस प्रकार संस्कार देना चाहिए | बच्चों को नैतिकता के आधार पर शिक्षा प्रदान की जाए और सामान्य ज्ञान के बारे में ज्यादा से ज्यादा जानकारी बताई जाए |

    प्रशिक्षण कार्यक्रम में सभी शिक्षकों तथा अध्यापकों को वर्क बुक के पैटर्न पर आधारित कक्षाओं के पाठ्यक्रम में बदलाव होने की वजह से प्रशिक्षण दिया जा रहा है जिसका आयोजन 4 चरणों में पूरा किया जाएगा |

    तहसील मुख्यालय पर कक्षा एक से पांचवीं कक्षा तक के गणित एवं हिंदी विषयों के पाठ्यक्रम में बदलाव होने की वजह से लगभग 90 शिक्षक तथा अध्यापक प्रशिक्षण ले रहे हैं | पाठ्यक्रम बदल जाने की वजह से शिक्षकों को पढ़ाने में काफी परेशानी हो रही थी जिसके लिए राज्य सरकार द्वारा सभी जिलों तथा तहसील स्तर पर शिक्षकों के लिए प्रशिक्षण करवाने की व्यवस्था की गयी है | गैरतगंज तहसील में प्राइमरी स्कूल के शिक्षको का दूसरा चरण की खत्म हो चुका है |

    अपना अखबार खरीदें

    Join our Android App, telegram and Whatsapp group