जेट एग्जाम भारत का पहला आरक्षण मुक्त प्रतियोगिता एग्जाम

    1024

    JET Exam : जेट एग्जाम (JET Exam) या जॉइंट एम्प्लॉयमेंट टेस्ट (joint employment test) ने वर्ष 2017 से जेट एग्जाम के लिए एक नया नियम लागू किया है जिसके द्वारा जेट एग्जाम में अब किसी भी जाति,धर्म या अन्य कारणों के कारण छात्रों को आरक्षण नहीं दिया जायेगा।

    इससे पहले जितने भी एग्जाम हुए उनमें जेट परीक्षा छात्रों को आयु सीमा और एग्जाम फीस दोनों में जाति के अनुसार आरक्षित वर्ग को आरक्षण प्रदान करते थी लेकिन हाल ही में जेट एग्जाम की एक ऑफिसियल मीटिंग में यह निर्णय लिया गया है और इसे वर्ष 2017 जुलाई से लागू किया गया है।

    सूत्रों के अनुसार कई अनारक्षित छात्रों ने JET Exam से आरक्षण हाटने के लिए विनती की छात्रों का मनना ये है कि कई अनारक्षित छात्र ऐसे है जो ज्यादा एग्जाम फीस नहीं दे सकते साथ ही आरक्षण की भावना के कारण कई होनहार छात्र अपना पूर्ण प्रयास करने के बावजूद भी सेलेक्ट नहीं हो पाते। इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए जेट एग्जाम ने आरक्षण को अपने एग्जाम में खत्म करने का फैसला लिया है।

    जेट एग्जाम (JET Exam) इंडिया का पहला ऐसा कॉम्पटीटिव एग्जाम है,जो आरक्षण मुक्त है। जिसने सभी छात्रों को एक तराजू में रखा है इस एग्जाम में न किसी को फीस में आरक्षण और न ही किसी को आयु सीमी में।

    जेट एग्जाम के आधिकारिक सूत्रों के अनुसार जेट एग्जाम अगले वर्ष कई सारे एग्जाम आयोजित करने वाली है जो उनके इस नियम का पालन करेंगे। इस नियम को लागू करने का मुख्य कारण यही है कि हर वर्ग के लोग इस एग्जाम को अटेंड करें। जिन परीक्षाओं में आरक्षण दिया जाता है। वहा आरक्षित वर्ग वाले ज्यादा उम्मीदवार फॉर्म भरते है जबकि अनारक्षित आरक्षित वर्ग की अपेक्षा कम। जिससे अनारक्षित वर्ग वाले ज्यादा संख्या में बेरोजगारर है।

    Click Here JET Exam Official Website

    अपना अखबार खरीदें

    Join our Android App, telegram and Whatsapp group