विक्रम युनिवेर्सिटी में फार्मेसी का स्व-वित्तीय पाठयक्रम लागु

    249
    विक्रम युनिवेर्सिटी में फार्मेसी का स्व-वित्तीय पाठयक्रम लागु

    उज्जैन | विक्रम कॉलेज में धरोहर पूंजी जमा करने से पहले स्वयं द्वारा वित्तीय पाठ्यक्रम सुचारु रुप से चलाने की बड़ी परेशानी खड़ी हो गई है जिसमें सरकार को कॉलेज लेवल पर धरोहर पूंजी के लिए पैसे जमा करने थे परंतु इस समय तक ऐसे कोई पैसे जमा नहीं किए गए परेशान  होना इस बात से है की पैसे जमा करने के बिना ही कई वर्षों से यह स्वयं वित्तीय पाठ्यक्रम कॉलेज में आयोजित किया जा रहा है

    सरकार के उच्च शिक्षा डिपार्टमेंट की तरफ से इसमें  धरोहर पूंजी ली जाती है कुछ समय पहले यह  पूंजी विषय के आधार पर ली जाती थी परंतु इसको कॉलेज लेवल पर स्थापित किया है जिसके  हिसाब से कॉलेज को 10 करोड़ रुपए को जरूर पूछें सरकार जमा करनी होगी इस पूंजी को देने पश्चात कॉलेज स्वयं के लेवल पर सभी पाठ्यक्रमों को प्रारंभ  कर पाएगा प्रधानाध्यापक ने इस कार्य को मान लिया की धरोहर पहुंची जमा नहीं होने पर अब तक की गलतियां हुई है

    मेडिसिन कक्षा- कॉलेज में मेडिसिन को भी सभी वित्तीय पाठ्यक्रम में स्थापित किया गया है  साल 2003-04 से इसका प्रारंभ हुआ है सीटों की संख्या पूरी नहीं होने पर 2 वर्ष तक 70 और 80 बच्चों  को कॉलेज में दाखिला किया गया प्रारंभ में फार्मेसी काउंसलिंग ऑफ इंडिया आज्ञा बिना ही डिपार्टमेंट चलाया गया वर्ष 2009 में आज्ञा ली गई बाद में 48 सीटों पर दाखिला दिया गया 2011 -12 सीटों की संख्या 60  हो गई हर वर्ष सीट पूरी भरी होती है डिपार्टमेंट में कई मूल रूप से निवास टीचर के नाम पर दूसरे डिपार्टमेंट के पदों को मिलाते हुए शिक्षकों को नियुक्त किया गया है 6 अतिथि अध्यापक है|